बाजीराव पेशवा की समाधि पर ज्योतिरादित्य सिंधिया और सीएम शिवराज ने दी पुष्पांजलि

अंतरराष्ट्रीय राजनीतिक

खरगोन। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और सीएम शिवराज सिंह चौहान खरगोन जिले के रावेरखेड़ी पहुंचे। यहां उन्होंने श्रीमंत बाजीराव पेशवा के जन्म जयंती पर उनकी समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने उपस्थित अतिथियों का स्वागत करते हुए भारत माता के चरणों में वंदन किया। अटलजी की ‘यह देश हमारे लिए जमीन का टुकड़ा नहीं है’ पंक्तियां सुनाई। भारत माता ने अपनी कोख से ऐसे वीरों को जन्म दिया मन गर्वित हो जाता है। 15 अगस्त को खंडित आजदी मिली। लव का लाहौर कहा है। पंच नद की नदियां कहा है। हिंगलाज माता का मंदिर तोड़ा जा रहा है। गांधारी के देश अफगानिस्तान में उठापठक मची है। ब्रह्मा का देश हमारे पास नहीं है। जहां भारत के शूरवीरों ने परचम लहराया। रक्त की अंतिम बून्द दे देंगे लेकिन अब देश बंटने नहीं दिया जाएगा। झुकने नहीं दिया जाएगा। बाजीराव ने 39 साल में 41 लड़ाइयां लड़ी और सभी जीती। छत्रसाल महाराज का राज उन्हें लौटाया। अमेरिका की मिलिट्री में बाजीराव का जीवन पढ़ाया जाता है।सीएम शिवराज ने कहा, बाजीराव ने गोरिल्ला युद्ध को परिष्कृत किया। निजाम की सेना को घेरकर घुटने टेकने के लिए मजबूर किया। औरंगजेब का पोता दिल्ली छोड़कर भाग गया। सिंधिया परिवार ने ऐसे रणनीतिकार, शासक का समाधि स्थल रावेरखेड़ी में बनाया। इस स्थल का सम्पूर्ण जीर्णोद्धार किया जाएगा। पत्थर काले रंग का उपयोग किया जाएगा। यह स्थल बने तो ऐसा बने जमाना याद रखें। ऐसे वीर के लिए धन की कोई कमी नहीं रहेगी। नर्मदा घाट, तीर्थ यात्री निवास बनेगा। आश्वस्त करता हूं भारत माता की बेड़िया काटने वाले टंट्या नायक, भीमा नायक, ख्वाजा नायक, बाजीराव के स्थलों पर कार्यक्रम होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *